मेरा प्रिय विषय – गणित हिंदी निबंध | Mera Priy Vishay Ganit Hindi Nibandh

वर्तमान लेख मेरा प्रिय विषय गणित (Mera Priy Vishay Ganit Hindi Nibandh) इस पर आधारित एक हिंदी निबंध है। एक छात्र को गणित क्यों पसंद है, इस सवाल के सभी जवाब इस निबंध में बताए गए हैं।

मेरा पसंदीदा विषय गणित – हिंदी निबंध | My Favourite Subject Mathematics Nibandh Hindi |

हमारे स्कूल में पढ़ाए जाने वाले अन्य सभी विषयों में गणित मेरा पसंदीदा विषय है। मुझे हमेशा गणित सीखने में दिलचस्पी है क्योंकि मुझे इसमें सर्वश्रेष्ठ अंक मिलते हैं। मुझे गणित अवधारणाओं, बुनियादी गणित प्रक्रियाओं, सूत्रों, संख्या गणनाओं और ज्यामितीय आंकड़ों के बारे में सब कुछ सीखना अच्छा लगता है।

हमारे स्कूल में पी. आर. कदम सर गणित के शिक्षक हैं। वे बहुत ही मनोरंजक तरीके से गणित पढ़ाते हैं। उनकी वजह से मैंने पिछले कुछ टेस्ट परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त किए हैं। गणित को हल करने से मेरा आत्मविश्वास बहुत बढ़ा है।

मैं जोड़, घटाव, गुणा और भाग जैसे बुनियादी गणितीय कार्यों को बहुत आसानी से और जल्दी से कर सकता हूं। मैं कुछ उदाहरणों को अपने दिमाग में ही हल कर लेता हूं। चूंकि स्कूल में शुरुआत में ही गणित की कक्षा शुरू होती है, इसलिए मेरे पूरे दिन की शुरुआत अच्छी होती है।

जिस प्रकार गणित में उदाहरण को सूत्र द्वारा हल किया जाता है, उसी प्रकार हम अपने दैनिक जीवन की समस्याओं को तर्क को जानकर और नैतिक नियमों का उपयोग करके हल कर सकते हैं। मुझे लगता है कि गणित ने मुझमें समस्या समाधान कौशल विकसित किया है।

गणित एक व्यावहारिक विषय के समान ही महत्वपूर्ण है। हम अपने दैनिक जीवन में अपने आस-पास कई गणितीय लेन-देन देखते हैं। गणित हमारे लिए उपयोगी है ताकि हम इस तरह के लेन-देन में ठगे न जाएं। हम कई जगहों जैसे बैंक, स्कूल, दुकानों, औद्योगिक संगठनों में गणित का उपयोग करते हैं।

वर्तमान में हमारे विद्यालय में कुल तीन गणित शिक्षक हैं। सभी शिक्षक अच्छा पढ़ाते हैं। लेकिन मुझे छोटी उम्र में ही गणित में दिलचस्पी हो गई थी क्योंकी मेरे पिताजी ने मुझे बचपन से ही गणित पढ़ाना शुरू कर दिया था। मुझे अपनी स्कूली शिक्षा में धीरे-धीरे इसका लाभ मिला।

मैंने हर साल गणित में ‘ए’ ग्रेड हासिल किया है। वर्तमान में स्कूल में हमें अध्ययन के रूप में गणित के प्रत्येक पाठ के आधार पर गृहकार्य दिया जाता है। मैं कभी-कभी दूसरे विषय का अध्ययन करने में असफल हो जाता हूं, लेकिन मैं गणित का अध्ययन करने में कभी असफल नहीं होता।

मैं भविष्य में भी संपूर्ण रूप से गणित का अध्ययन करना चाहूंगा। जब मैं बड़ा हो जाऊंगा, तो मैं एक गणित शिक्षक के रूप में अपना करियर बनाना चाहता हूं। मुझे पूरा विश्वास है कि इस सपने के लिए मेरा परिवार मेरा साथ देगा। उसके लिए मैं इस समय बहुत ही एकाग्रता के साथ गणित का अध्ययन कर रहा हूं।

अगर आपको मेरा प्रिय विषय – गणित हिंदी निबंध (Mera Priy Vishay Ganit Hindi Nibandh) पसंद है तो अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में साझा करें…

Leave a Comment